Tuesday , May 17 2022
Breaking News

Satna: डीएलएड के ऑनलाइन फार्म भरने और परीक्षा की तिथियाँ बढ़ी

सतना, भास्कर हिंदी न्यूज़/ माध्यमिक शिक्षा मण्डल द्वारा आयोजित डीएलएड द्वि-वर्षीय पाठ्यक्रम मुख्य परीक्षा प्रथम व द्वितीय वर्ष के परीक्षार्थियों के लिये ऑनलाइन परीक्षा फार्म भरने की अवधि बढ़ा दी है। अब ऑनलाइन परीक्षा फार्म 17 मई 2022 तक भरे जा सकेंगे।

परीक्षा नियंत्रक माध्यमिक शिक्षा मण्डल से प्राप्त जानकारी के अनुसार डीएलएड द्वि-वर्षीय पाठ्यक्रम की परीक्षाओं की तिथि भी बढ़ा दी गई है। अब यह परीक्षाएँ 2 जून से शुरू न होकर जुलाई 2022 के दूसरे हफ्ते में शुरू होंगीं। परीक्षाओं का विस्तृत कार्यक्रम पृथक से जारी किया जायेगा।

प्रदेश में तेज गति से जारी है अमृत सरोवरों का निर्माण

आजादी के अमृत महोत्सव वर्ष में प्रधानमंत्री  नरेन्द्र मोदी की परिकल्पना के अनुरूप मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान के निर्देशन में प्रदेश में अमृत सरोवर के निर्माण का कार्य तेज गति से चल रहा है। प्रत्येक जिले में कम से कम 100 अमृत सरोवर बनाये जायेंगे।
अभी तक प्रदेश में 5 हजार 638 अमृत सरोवर के लिये स्थल चयन किया गया है, जिनमें 5 हजार 449 पर निर्माण कार्य जारी है। इनमें 29 अमृत सरोवरों के निर्माण का कार्य 75 प्रतिशत से अधिक, 134 का 50 प्रतिशत से अधिक, 1204 का 25 प्रतिशत से अधिक एवं 4 हजार 82 अमृत सरोवरों का 25 प्रतिशत तक निर्माण कार्य पूर्ण कर लिया गया है।
ये सभी अमृत सरोवर वृहद स्वरूप में और गुणवत्तापूर्ण बनाये जा रहे हैं। इनका उपयोग सिंचाई, मत्स्य-पालन, सिंघाड़ा उत्पादन आदि प्रयोजन में किया जायेगा। न्यूनतम भण्डारण क्षमता 10 हजार घन मीटर होगी। ये महात्मा गाँधी नरेगा एवं अन्य शासकीय योजनाओं के अभिसरण से बनाये जा रहे हैं। लाभार्थी ग्रामीणों के जल उपयोगकर्ता समूहों का गठन भी किया गया है। अमृत सरोवर योजना में नई जल-संरचनाओं के निर्माण के साथ स्थानीय लोगों को मनरेगा में रोजगार भी मिल रहा है।

संभाग के सभी जिलों में दो दिवसीय स्वास्थ्य शिविर आयोजित होंगे

संभाग के सभी जिलों में दो दिवसीय स्वास्थ्य शिविर आयोजित किए जाएंगे। कमिश्नर अनिल सुचारी ने बताया कि 16 एवं 17 मई को रीवा में, 18 व 19 मई को सिंगरौली में, 25 व 26 मई को सतना में तथा एक व दो जून को सीधी में स्वास्थ्य शिविर लगाए जाएंगे। कमिश्नर ने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किया है कि उक्त स्वास्थ्य शिविरों में कैंसर, ह्मदय, न्यूरोलॉजी, पल्मोनालॉजी, किडनी, लीवर, डरमेटोलाजी, मनोरोग, नेत्र, शिशु, स्त्री रोग, प्लास्टिक एवं अस्थि से संबंधित रोगों की स्क्रीनिंग, परीक्षण एवं उपचार के लिए विशेषज्ञ चिकित्सकों की ड्यूटी लगाया जाना सुनिश्चित करें।

23 मई तक चलाया जाएगा डेंगू जनजागरुकता पखवाड़ा

स्वास्थ्य संचालनालय मध्यप्रदेश के निर्देशानुसार जिले में 16 मई 2022 को राष्ट्रीय डेंगू दिवस एवं 23 मई तक डेंगू बीमारी से बचाव हेतु जन-जागरुकता पखवाड़ा मनाया जायेगा। इस वर्ष की थीम ‘‘डेंग इज प्रीवेन्टेबलःलेट्स ज्वाईन हैंड्स’’ निर्धारित की गई है।
जिला मलेरिया विभाग द्वारा जारी एडवाइजरी के अनुसार मलेरिया, डेंगू, चिकनगुनिया, फाइलेरिया (हांथीपाव) तथा जापानी एनसेफलिटिसिस बुखार से बचाव हेतु घरों और दुकानों की खिड़कियों, रोशनदानों जैसी जगहों में जाली लगवायें। साथ ही कहीं भी 5 दिन से ज्यादा पानी जमा नहीं होने दें। कबाड़ या पात्रों में भरा पानी सप्ताह में एक बार अवश्य खाली करें। सोते समय मच्छरदानी का उपयोग करें। पूरी आस्तीन के कपड़े पहनें। मच्छर भगाने वाले साधन जैसे- क्रीम, क्वाइल, रिपेलेन्ट इत्यादि का उपयोग करें। बुखार आने पर तत्काल स्वास्थ्य केन्द्र में जांच करायें।

जिला मलेरिया अधिकारी ने बताया कि मच्छर हमेशा साफ या गंदे मगर ठहरे पानी में अंडे देते हैं। जो कि लार्वा और प्यूपा बनने के बाद 6-7 दिनों में विकसित मच्छर का आकार लेकर उड़ जाते है। मच्छर को अंडे देने के लिये पानी की सतह के संपर्क में आना आवश्यक है। यानि अगर हम पानी की सतह को ढक के रखें, जिससे मच्छर पानी की सतह के संपर्क में ही न आ सकें, तो मच्छर अंडे नहीं दे पायेंगे।

 

About admin

Check Also

Satna: नेट पात्रता परीक्षा के लिए आवेदन 20 मई तक

सतना, भास्कर हिंदी न्यूज़/ उच्च शिक्षा विभाग में असिस्टेंट प्रोफेसर, लाइब्रेरियन, स्पोर्ट्स ऑफिसर आदि के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *