HomeराजनीतिConngres atteck: किस मामा की गिनती में हो शिवराज, शकुनी या कंस,...

Conngres atteck: किस मामा की गिनती में हो शिवराज, शकुनी या कंस, बोले सज्जन वर्मा

Congres atteck c.m shivraj:digi desk/BHN/ बाल दिवस के दिन इंदौर में छठी कक्षा की बच्ची के साथ हुए सामूहिक दुराचार के मामले के सामने आने के बाद कांग्रेस हमलावर हो गई है। पूर्व मंत्री और विधायक सज्जनसिंह वर्मा ने प्रदेश सरकार और मुख्यमंत्री को कटघरे में खड़ा किया है। वर्मा ने कहा है कि शिवराजजी को जवाब देना चाहिए कि वे किस मामा की गिनती में है शुकुनी या कंस?

छठी कक्षा की बच्ची के साथ ड्रग्स देकर बलात्कार करने के मामले का खुलासा हुआ था। घटना 14 नवंबर को घटित हुई थी। सज्जन वर्मा ने कहा कि जिस दिन बाल दिवस होता है उस दिन बच्चों के साथ ऐसी हैवानियत होती है। शिवराज जी खुद को मामा कहलाने का ढोंग करते हैं। शेल्टर होम में एक पीड़ित बच्ची के पास नींद की गोलियां भेज दी जाती है और उसकी मौत हो जाती है। प्रदेश के मुख्यमंत्री और मुखिया के नाते शिवराज जी को जवाब देना चाहिए कि भोपाल के बाल संरक्षण गृह में बच्चियों को प्रताड़ित किया जाता है। उनकी बचाने की गुहार नहीं सुनी जाती। शिवराज कितने निर्भया कांड कराओगे। बड़ी-बड़ी बाते करना बंद कर अबोध बच्चियों को सुरक्षा देना चाहिए।

राशन कांड पर भी हमलावर
इधर राशन कांड पर जिला प्रशासन द्वारा की जा रही कार्रवाई में भी पक्षपात के आरोप लगने लगे हैं। कांग्रेस ने सवाल उठाया है कि राशन माफिया प्रमोद दहीगुड़े पर न रासुका लगाई न ही संपत्तियां तोड़ी गई। कांग्रेस के महासचिव राकेशसिंह यादव ने कहा कि इस राशन माफिया के संबंध संघ से होने के बाद मंत्री उषा ठाकुर के दबाव में इसे बचाया जा रहा है। इससे पहले महू क्षेत्र में जंगल माफियाओं को भी ठाकुर छुड़ाकर ले गई थी। एक और मुख्यमंत्री माफियाओं को जमीन में गाड़ने की बात कहते हैं दूसरी ओर खुद के संगठन से जुड़े माफियाओं की सरकार मदद में लगी रहती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments