Thursday , June 20 2024
Breaking News

गाजा में हमास आतंकियों के खिलाफ जंग में उतरी इजरायली सेना एक तरफ कड़ा संघर्ष कर रही, निकाला विशाल जुलूस

तेल अवीव
गाजा में हमास आतंकियों के खिलाफ जंग में उतरी इजरायली सेना एक तरफ कड़ा संघर्ष कर रही है। उधर, इजरायलियों की रक्षा कर पाने में नाकाम पीएम बेंजामिन नेतन्याहू पर आम इजरायली भड़के हुए हैं। पिछले दिनों महिला इजरायली सैनिकों के वीडियो सामने आए थे, जिसमें दावा किया गया कि हमास आतंकियों ने इन महिला इजरायलियों के साथ हैवानियत की है। वीडियो सामने के बाद इजरायल में एक बार फिर नेतन्याहू के खिलाफ लोगों का गुस्सा भड़का हुआ है। राजधानी तेल अवीव पर हजारों की संख्या में इजरायली नेतन्याहू के इस्तीफे की मांग के साथ प्रदर्शन करते नजर आए। इस दौरान सुरक्षाकर्मियों और प्रदर्शनकारियों के बीच खूनी झड़प भी हो गई।

इजरायली सेना और हमास आतंकियों के बीच युद्ध निर्णायक मोड़ ले चुका है। उत्तरी गाजा में कहर बरपाने के बाद आईडीएफ अब दक्षिण गाजा में अपने ऑपरेशन तेज कर रही है। यहां राफा में इजरायली सेना रिहायशी इलाकों तक पहुंच चुकी है। इजरायली सेना को लगता है कि उत्तरी गाजा के बाद दक्षिणी गाजा के शहर राफा में हमास आतंकियों की बची खुची सेना है। ऐसे में इजरायल इस मौके को नहीं छोड़ना चाहता। इजरायली सेना पूरे दम से इस इलाके में भी हमास के खिलाफ ऑपरेशन क्लीन चला रही है। हमास आतंकियों पर लगातार हमले कर रही इजरायली सेना के निशाने में आम लोग भी आ रहे हैं। गाजा में इजरायली हमलों में 35 हजार फिलिस्तीनियों को मार डाला गया, जिनमें अधिकतर महिलाएं और बच्चे थे।

फिलिस्तीनियों के खिलाफ लगातार जंग कर रहे नेतन्याहू के खिलाफ अपने ही देश में भारी विरोध हो रहा है। नेतन्याहू पर इजरायलियों की रक्षा न कर पाने के आरोप लग रहे हैं। आठ महीने से ज्यादा का वक्त हो गया है और अभी तक 200 से अधिक बंधकों का कोई पता नहीं चल पाया है। इजरायल लगातार उन्हें ढूंढने का दावा कर रहा है और उनके परिजन उनके वापस की उम्मीद खो रहे हैं। शनिवार शाम को एक बार फिर हजारों की संख्या में आम इजरायली सड़कों पर उतरे और नेतन्याहू के इस्तीफे की मांग की।

पुलिस और प्रदर्शनकारियों में खूनी झड़प
शनिवार को तेल अवीव में हजारों लोग पीएम बेंजामिन के खिलाफ प्रदर्शन करने उतरे। हमास द्वारा बंधक बनाए लोगों की वापसी के लिए लोगों ने नेतन्याहू के खिलाफ जमकर नारे लगाए। इस दौरान पुतलों को आग के भी हवाले किया गया। प्रदर्शनकारियों का गु्स्सा हालिया वीडियो पर था, जो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था। वीडियो में महिला इजरायली सैनिकों के फुटेज सामने आए जो हमास के बंधन में हैं। अब हमास ने शनिवार को एक बार फिर दावा करके सनसनी मचा दी कि उत्तरी गाजा में इजरायली सैनिकों के साथ उनकी अल कसम ब्रिगेड के सैनिकों के साथ जंग हुई। जिसमें कई इजरायली सैनिक मारे गए और कुछ को उन्होंने बंधक बना लिया है। इन वीडियो के सामने आने के बाद इजरायल में आम लोग एक बार फिर नेतन्याहू सरकार पर आक्रोशित हैं और नेतन्याहू के इस्तीफे की मांग कर रहे हैं। इस दौरान प्रदर्शनकारियों की पुलिस से खूनी झड़प भी हुई। सैंकड़ों की संख्या में आम लोग घायल हुए हैं।

इजरायल में बड़े पैमाने पर प्रदर्शन के बीच एक छोटा अमेरिकी सैन्य जहाज और डॉकिंग क्षेत्र की एक पट्टी दक्षिणी इजरायली शहर अशदोद के पास समुद्र तट पर बहकर आ गया। यह अमेरिका द्वारा निर्मित उस घाट से ज्यादा दूर नहीं है, जिसके बारे में इजरायली सेना ने कहा था कि फिलिस्तीनी क्षेत्र में मानवीय सहायता पहुंचाई जा रही है।

 

About rishi pandit

Check Also

US ने चीन को उकसाने वाला बड़ा कदम उठाया, ताइवान को 30 करोड़ अमेरिकी डॉलर के नए हथियार बेचने को मंजूरी दी

 वॉशिंगटन दुनिया में बीते कई महीनों से दो युद्ध जारी हैं। एक तरफ इजरायल और …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *