Tuesday , May 17 2022
Breaking News

Russia Ukraine War: अब निशाने पर पुतिन की गर्लफ्रेंड, यूरोपीय संघ ने अलीना काबेवा पर लगाया बैन

Russia Ukraine War: digi desk/BHN/नई दिल्ली/  रूस और यूक्रेन के बीच जारी युद्ध में रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने बार-बार यूरोपीय देश को यूक्रेन की मदद नहीं करने की धमकी दी है। गौरतलब है कि यूरोपीय देश रूस से सीधे मुकाबला नहीं कर सकते इसलिए रूस पर तरह-तरह के प्रतिबंध लगा रहे हैं। इन तमाम प्रतिबंधों के बावजूद रूस यूक्रेन को बख्शने के मूड में नहीं है। अब यूरोपीय संघ ने पुतिन पर शिकंजा कसने के लिए नई तरकीब निकाली है। यूरोपीय संघ ने रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन की कथित प्रेमिका अलीना काबेवा पर प्रतिबंध लगा दिया है।

रूस के खिलाफ यूरोपीय संघ के प्रतिबंधों के छठे प्रस्तावित पैकेज में अलीना काबेवा का नाम भी प्रतिबंधित लोगों की सूची में शामिल हो गया है। राजनयिक सूत्रों के मुताबिक यूरोपीय संघ के प्रतिबंधित लोगों की लिस्ट तैयार कर ली गई है और इस पर चर्चा चल रही है, उन्हें जल्द ही लागू किया जाएगा।”

दो यूरोपीय राजनयिक स्रोतों के हवाले से बताया गया है कि अलीना काबेवा, जो पुतिन की प्रेमिका है और उनके बहुत करीब है, को यूरोपीय संघ द्वारा प्रतिबंधित कर दिया गया है। हालांकि यूरोपीय संघ ने अभी तक अलीना काबेवा को प्रतिबंधित करने के प्रस्ताव पर आधिकारिक रूप से हस्ताक्षर नहीं किए हैं, लेकिन सूत्रों का कहना है कि जल्द ही इस प्रस्तावों को लागू कर दिया जाएगा।

कौन है पुतिन की गर्लफ्रेंड अलीना काबेवा
अलीना काबेवा, जिनका जन्म 1983 में हुआ था। करीब 10 साल पहले पुतिन और अलीना की मुलाकात तब हुई थी, जब जिमनास्ट स्पर्धा में पदक विजेता बनी थी। पुतिन और अलीना के संबंधों की खबरें तभी से सुर्खियों में रही है। तलाकशुदा पुतिन ने कभी भी अलीना के साथ संबंधों से इनकार नहीं किया है। अप्रैल में, वॉल स्ट्रीट जर्नल ने बताया कि अमेरिकी अधिकारी इस बात पर बहस कर रहे थे कि क्या काबेवा पर प्रतिबंध लगाया जाए, इस चिंता के साथ कि इस तरह के कदम से तनाव बढ़ सकता है क्योंकि यह पुतिन के लिए एक अत्यधिक व्यक्तिगत मामला होगा।

About admin

Check Also

World: श्रीलंका में बिगड़े हालात, मंत्रियों-सांसदों के घरों में लगाई आग, हिंसा में 3 की मौत, 150 से ज्यादा घायल

World anti government demonstrators set fire the house of minister after ruling party supporters attacked …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *