Wednesday , May 18 2022
Breaking News

Satna: लोगों को सूरज ने झुलसाया, पारा 45 डिग्री के पार, झुलसती गर्मी से हाहाकार 

सतना, भास्कर हिंदी न्यूज़/ भीषण गर्मी ने पूरे विंध्य को तपा दिया है। सूरज की तपन इतनी हो रही है कि सुबह 8 बजे से ही सड़कें गर्म होना शुरू हो जाती हैं और सुबह 10 बजे तक तेज लू के थपेडे चलने लगते हैं। शुक्रवार को सतना में यह स्थिति रही की दिन का तापमान 45.4 डिग्री तक पहुंच गया। जिससे लोगों को झुलसा देने वाली गर्मी का अहसास हुआ। इसका असर सबसे ज्यादा सड़कों और घरों से बाहर निकलने वाले लोगों पर दिखाई दे रहा है।

मौसम विभाग ने विंध्य के अन्य जिलों के साथ-साथ सतना के लिए भी तीव्र लू चलने का अलर्ट जारी किया है। स्थानीय मौसम विभाग के अनुसार अगले कुछ दिन तक सतना में लू चलेगी जिससे बचने की सलाह लोगों को दी गई है। लोगों को घर से बाहर निकलते वक्त शरीर व चेहरा ढककर बाहर निकलने कहा गया है। इसके साथ ही शरीर को ठंडक बनाए रखने के लिए लगातार पानी पीने, ठंडे पेय पदार्थ, ग्लूकोज का सेवन और आंखों में जलन रोकने के लिए काला चश्मा पहनकर धूप में निकलने कहा गया है। इस भीषण गर्मी से बच्चों और बुजुर्गों को बचाने की जरूरत अधिक है इसके लिए लोगों को दिन के समय अधिक बाहर नहीं निकलने की सलाह दी गई है।

ऐसा रहा सतना का तापमान 

मौसम विभाग के अनुसार पथरीला व मैदानी क्षेत्र होने के कारण विंध्य में गर्मी का तीव्र असर हो रहा है। स्थानीय मौसम विज्ञानी आरके श्रीवास्तव के अनुसार इस वर्ष गर्मी में बढ़ोतरी हुई है। शुक्रवार को सतना का अधिकतम तापमान 45.4 डिग्री सेल्सियस तो न्यूनतम तापमान 27.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। वर्तमान में बीते एक सप्ताह से दिनों अधिकतम तापमान में धीरे-धीरे वृद्धि हो रही थी जो कि शुक्रवार को पारा ने सीधे तीन डिग्री की उछाल लगा दी। रात का तापमान भी 27 डिग्री से अधिक चल रहा है जिसके कारण लोगों को बेचैन करने वाली रात गुजर रही है। घरों में कूलर और पंखे मानो काम करना ही बंद कर दिए हैं।

बीते दो सालों में कम था असर 

बीते दो सालों से गर्मी ने उतना असर नहीं दिखाया था जितना इस वर्ष शुरुआती दौर से ही दिख रहा है। सतना में बीते 10 वर्षों में पहली बार हुआ कि अप्रैल माह में ही दिन का तापमान 45 डिग्री के पार चला गया हो। बीते माह 45 डिग्री के पार जाने के बाद इस मई में पहली बार शुक्रवार को पारा 45.4 डिग्री पर पहुंचा। वर्तमान में सूरज के तेवर देख आगे और भी तपन का अंदाजा लगाया जा सकता है। मौसम विज्ञानियों के अनुसार बीते दो वर्षों में कोरोना संक्रमण के चलते गर्मी के दिनों में लाकडाउन शहरों में लगे हुए थे जिससे प्रदूषण भी कम था और वातावरण भी साफ-सुथरा हो गया था जिससे उमस और गर्मी भी कम थी। लेकिन अब प्रदूषण एक बार फिर बढ़ने के कारण इसका असर मौसम पर पड़ा है और गर्मी तेज हो गई है। वहीं लोग अब लगातार बढ़ते तापमान को देख यह भी कयास लगा रहे हैं कि कुछ सालों में सतना का तापमान 50 डिग्री तक भी जा सकता है।

 

About admin

Check Also

Road Accdient: दर्दनाक हादसा, स्कॉर्पियो व कार की टक्कर में पिता-पुत्री की मौत, दो घायल

Road accdient: digi desk/BHN/ जोधपुर से नागौर की तरफ जा रही कार की स्कॉर्पियो से …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *